जागेश्वर मंदिर परिसर

जागेश्वर धाम – कुमाऊं घाटी में बसे शिवालय

उत्तरांचल के जंगलों से भरपूर पहाड़ी पर जागेश्वर अथवा नागेश के रूप में शिवालय है जागेश्वर धाम। मैंने इससे पूर्व उत्तरांचल के कुमाऊं क्षेत्र में पत्थरों से निर्मित मंदिरों की तस्वीरें देखीं थीं। उनके...
चाँद बावड़ी - आभानेरी - राजस्थान

चाँद बावड़ी – आभानेरी की मनमोहक कहानी

जयपुर, राजस्थान के समीप आभानेरी गाँव में स्थित चाँद बावड़ी भारत की सबसे सुन्दर बावड़ी है। मैं तो इसे सर्वाधिक चित्रीकरण योग्य बावड़ी भी मानती हूँ। यह १३ तल गहरी बावड़ी है। बावड़ी के भीतर,...
असम चाय की ताज़ा पत्तियां

असम चाय के बागान – असम में घूमने की जगहें

असम चाय के बागानों को लेकर मेरे मन में एक बहुत ही औपनिवेशिक छवि बसी हुई है। अंग्रेजों द्वारा संचालित चाय के उद्यान जिनमें बड़े-बड़े बंगलों में वे रहा करते थे। तथा वहीं पर...
लोथल - गुजरात

लोथल – सिंधु घाटी सभ्यता के अवशेषों का अवलोकन

लोथल उस भारत का चिन्ह है जिस काल में भारतीय उपमहाद्वीप में बहती सरस्वती नदी के किनारे पर मानव जीवन का वास हुआ करता था। जिसके प्रमाण आज भी सरस्वती नदी और उसकी उप-नदियों...
अयोध्या नगरी

अयोध्या – राम और रामायण की नगरी एक यात्रा परिदार्शिका

अयोध्या नगरी की यात्रा करने की अभिलाषा मुझे कई वर्षों से थी। अयोध्या नगरी, जहाँ भगवान् राम का जन्म हुआ, जहाँ महाकाव्य रामायण की शुरुवात हुई और जहाँ रामायण का समापन भी हुआ। अयोध्या...
सूरजकुंड हरियाणा

सूरजकुंड – एक ऐतिहासिक धरोहर हरियाणा के इतिहास से

सूरजकुंड – यह नाम सुनते ही आपके सामने उस प्रसिद्द मेले का रंगीन सा दृश्य उभर आता है, जो पूरे भारत को एक साथ आपके सामने प्रस्तुत करता है। यहां पर आप भारत के...
जूनागढ़ दुर्ग - बीकानेर

बीकानेर का जूनागढ़ किला भारत का सर्वोत्तम रखरखाव-युक्त किला

बीकानेर के जूनागढ़ किले का दर्शन मेरे लिए किसी रहस्य से परदा उठने से कम नहीं था। मैं यहाँ यह स्वीकार करना चाहूंगी कि मैं इस किले की खूबियों से पूर्णतः अनभिज्ञ थी। बीकानेर...
लोमांस ऋषि गुफा - बराबर पहाड़ी - बिहार

बराबर गुफाएँ – भारत की सबसे प्राचीन गुफाएँ – बिहार का ऐतिहासिक स्थल

बिहार की मेरी प्रथम यात्रा के रूप में मुझे बराबर गुफाएँ देखने का मौका मिला। चट्टानों को काटकर बनाई गयी गुफाएँ भारत भर की कई पहाड़ियों पर फैली हुई हैं। इन गुफाओं का प्रयोग...
वार्ड झील - शिलांग, मेघालय

मेघालय के शिलांग शहर में क्या क्या पर्यटक स्थल देखें

मेघालय – अर्थात मेघों का आलय। यह क्षेत्र हमेशा बादलों से आवृत्त रहता है। यहां पर एक भी पल ऐसा नहीं था, जब हमने आसमान में एक भी बादल ना देखा हो। वैसे तो...
रंग घर - शिवसागर, असम

शिवसागर या सिबसागर – असम में मंदिरों की नगरी

शिवसागर – असम के पर्यटक स्थल दिखो नदी के किनारे पर, लगभग 380 कि.मी. गुवाहाटी के पूर्व में और जोरहाट के 60 कि.मी. पूर्व में एक छोटा पर अनोखा नगर, शिवसागर बसा हुआ है। इसे...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

152,412FansLike
5,632FollowersFollow
828FollowersFollow
21,727FollowersFollow
8,650SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ