कालिदास की नाट्यशाला

कालिदास की नाट्यशाला – रामगढ छत्तीसगढ़ की एक प्राचीन धरोहर

संस्कृत के महान कवि कालिदास के बारे तो आप सब जानते ही हैं। उनकी कथाओं, काव्यों और अन्य साहित्यिक कृतियों से भी आप अवश्य परिचित होंगे; लेकिन क्या आप भारत में स्थित उनसे जुड़ी...
पुरखौती मुक्तांगन की दीवारों पे चित्रकारी

पुरखौती मुक्तांगन – पूर्वजों को समर्पित भावपूर्ण श्रद्धांजलि, नया रायपुर 

नए रायपुर की चौड़ी, व्यापक और बिजली के खंबों से पंक्तिबद्ध सड़कें आपको इस 200 एकड़ के संस्कृति और विरासत से जुड़े संग्रहालय तक ले जाती हैं, जिसे पुरखौती मुक्तांगन कहा जाता है। जब...
प्रातः बिखरे महुआ के हलके पीले पुष्प

महुआ के फूलों के रंग – छत्तीसगढ़ यात्रा के कुछ अनुभव

महुआ के महकते फूल - अब तक इन फूलों के बारे में मैंने सिर्फ कहानियों, गीतों और लोककथाओं में ही सुना था। मुझे कभी भी इन फूलों को प्रत्यक्ष रूप से देखने का अवसर...
ताला छत्तीसगढ़ के रुद्रशिव की प्रतिमा

ताला की अद्वितीय रुद्रशिव की मूर्ति – छत्तीसगढ़ 

रुद्रशिव की अद्वितीय मूर्ति  ताला की रुद्रशिव की यह अद्वितीय मूर्ति शिल्पकला का सबसे अनोखा रचनांश है। लाल बलुआ पत्थर से बनी यह मूर्ति दो मीटर से भी अधिक ऊंची है। मूर्तिकला का ऐसा...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

155,028FansLike
3,472FollowersFollow
18,859FollowersFollow
5,348SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ