भगोरिया - भील जनजाति का होली उत्सव

मध्य प्रदेश के भील जनजाती का भगोरिया उत्सव

जब मुझे भगोरिया उत्सव में भाग लेने के लिये झाबुआ जाने का निमंत्रण मिला, मुझे इस उत्सव के विषय में तनिक भी जानकारी नहीं थी। ना ही झाबुआ के अस्तित्व के विषय में कोई...
मांडू का कपूर ताल

मांडू की प्राचीन जल प्रबंधन प्रणाली एवं बावड़ियाँ

विंध्य पर्वत श्रंखला के एक पहाड़ी क्षेत्र पर, लगभग २००० फीट की ऊंचाई पर विराजमान मांडू एक प्राचीन दर्शनीय धरोहर है। उत्तर में मालवा पठार तथा दक्षिण में नर्मदा की घाटियों से घिरी इस...
महेश्वर के पर्यटक स्थल

महेश्वर – नर्मदा के चरणों में अहिल्या बाई होलकर की प्राचीन नगरी

महेश्वर यानि रानी अहिल्या बाई होलकर की नगरी! रानी अहिल्या बाई ने होलकर की राजधानी को इंदौर से नर्मदा किनारे स्थित महेश्वर में स्थानांतरित किया तथा यहीं से उन्होंने शासन किया। भगवान् शिव एवं...
ओम्कारेश्वर द्वीप

ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग नर्मदा के पावन तट पर

ओंकारेश्वर, नर्मदा नदी में स्थित एक अद्वितीय द्वीप! ४कि.मी. लंबा व २कि.मी. चौड़ा यह द्वीप, चारों ओर नर्मदा नदी से घिरा छोटा पहाड़ दिखाई पड़ता है। आकाश से यदि इसे देखा जाये तो यह...
Munna Tiger - Kanha National Park

मुन्ना बाघ – मध्यप्रदेश के कान्हा राष्ट्रीय उद्यान का प्रसिद्ध सितारा

मैंने भारत भर के राष्ट्रीय उद्यानों में अनेक सवारियां की हैं। इस सब वन्य जीवन की सफारियों के दौरान किसी बाघ को उसके प्राकृतिक परिवेश में देखने का भाग्य अब तक नहीं मिला था।...
असीरगढ़ दुर्ग - बुरहानपुर

बुरहानपुर – जहां कभी ताज महल बनवाया जाने वाला था!

बुरहानपुर – इस नगर को मैं केवल इसलिए जानती थी कि यहाँ शाहजहाँ की पत्नी मुमताज महल की मृत्यु हुई थी। वही मुमताज महल जिनकी स्मृति में ताज महल बनवाया गया था। अपनी १४वी.संतान...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

151,702FansLike
6,729FollowersFollow
844FollowersFollow
22,587FollowersFollow
8,650SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ