भानगढ़ दुर्ग - रत्नवती प्रासाद

भानगढ़ दुर्ग – भारत का सर्वाधिक भुतहा एवं डरावना स्थल

भानगढ़ दुर्ग – जब भी भारत के सबसे भुतहा स्थलों के सम्बन्ध में कहीं चर्चा हो तो इस दुर्ग का नाम अवश्य लिया जाता है। सूर्यास्त के उपरांत इस दुर्ग में प्रवेश करने वालों...
रानी सती मंदिर झुंझुनू

राजस्थान के झुंझुनू शेखावाटी में दर्शनीय स्थल

झुंझुनू इतना संगीतमय शब्द है जो कानों में पड़ते ही संगीत घोलने लगता है। आँखें बंद कर झुंझुनू शब्द सुनें तो मानसपटल पर किसी शिशु का मन बहलाने वाला खनकता खिलौना, झुनझुना आ जाता...
फतेहपुर की फ्रांसिसी हवेली पर गज चित्रण

मंडावा एवं फतेहपुर – शेखावाटी पर्यटन केंद्र के आकर्षण

राजस्थान के शेखावाटी क्षेत्र का सर्वाधिक लोकप्रिय नगर है, मंडावा। विश्व भर से आये पर्यटकों की चहल-पहल से भरा यह एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है। यह उन विशेष स्थलों में से एक हैं जहां...
मेड़ता में मीराबाई स्मारक में मीरा की मूर्ति

मेड़ता – संत एवं कवयित्री मीराबाई की जन्मभूमि

मीराबाई हम में से कई पाठकों के लिए चिर परिचित नाम है। हम सब उन्हे मध्य-युगीन भारत में चितोड़गढ़ की रानी के रूप में तो जानते ही हैं, साथ ही यदि मैं उन्हे भारत...
चाँद बावड़ी - आभानेरी - राजस्थान

चाँद बावड़ी – आभानेरी की मनमोहक कहानी

जयपुर, राजस्थान के समीप आभानेरी गाँव में स्थित चाँद बावड़ी भारत की सबसे सुन्दर बावड़ी है। मैं तो इसे सर्वाधिक चित्रीकरण योग्य बावड़ी भी मानती हूँ। यह १३ तल गहरी बावड़ी है। बावड़ी के भीतर,...
जयपुर के आस पास पर्यटन स्थल

जयपुर के आसपास के स्थल- १० सर्वोत्कृष्ट एक-दिवसीय भ्रमण

जब जयपुर में ही इतना कुछ दर्शनीय है तो जयपुर के आसपास के दर्शनीय स्थलों की खोज हम क्यों करें? यही सोच रहे हैं न आप? आपका संशय तर्कसंगत अवश्य प्रतीत होता है। किन्तु...
खाटू का श्याम कुंड

खाटू श्याम पराजितों के आश्रयदाता देव

खाटू श्याम - यह मेरी इस जयपुर यात्रा की सबसे महत्वपूर्ण एवं रोचक खोज थी। खाटू श्याम मंदिर, यह नाम मैंने सुना अवश्य था पर इस पर कभी अधिक ध्यान नहीं दिया। अधिकतर लोगों...
जूनागढ़ दुर्ग - बीकानेर

बीकानेर का जूनागढ़ किला भारत का सर्वोत्तम रखरखाव-युक्त किला

बीकानेर के जूनागढ़ किले का दर्शन मेरे लिए किसी रहस्य से परदा उठने से कम नहीं था। मैं यहाँ यह स्वीकार करना चाहूंगी कि मैं इस किले की खूबियों से पूर्णतः अनभिज्ञ थी। बीकानेर...
चुरू का जैन मंदिर

थार मरुस्थल का चूरू – रंगों की छटा बिखेरता शेखावाटी नगर

चूरू राजस्थान का एक छोटा सा नगर है जो हरियाणा सीमा पर स्थित है। बीकानेर के निकट स्थित चूरू थार मरुभूमि में एक रमणीय मरूद्यान के समान है। लगभग १२वीं सदी में अस्तित्व में...
कावड़ कथा वाचन - राजस्थान

कावड़ राजस्थान की गाथायें कहता रंगीन पिटारा

कावड़ लोक कला से मेरा प्रथम सामना नई दिल्ली के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र में आयोजित दस्तकार मेले में हुआ था। चटक पीले, लाल व हरे रंग में रंगे इन रंगबिरंगे लकड़ी के...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

149,899FansLike
6,729FollowersFollow
935FollowersFollow
28,461FollowersFollow
15,627SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ