गुलमर्ग के पर्यटन स्थल

गुलमर्ग के पर्यटन स्थल और विश्व के सबसे ऊँचे उड़न खटोला की सवारी

गुलमर्ग – यह नाम सुनते ही मानसपटल पर बर्फीले पर्वत एवं उनकी ढलान पर स्की करते खिलाड़ियों की छवि उभर कर आ जाती है। पैर पर बंधी लम्बी डंडी से मार्ग सुगम करते हुए...
स्कन्द पुराण कार्तिक महात्मय - पाप पुण्य का लेखा जोखा

पाप एवं पुण्य – एक गणितीय आंकलन स्कन्द पुराण से

स्कन्द पुराण के अनुसार सुसंगति एवं दुसंगति के प्रभावों का लेखा जोखा इस लेख के साथ पढ़िए - स्कन्द पुराण वर्णित कार्तिक मास महात्मय प्रत्येक मनुष्य अपने जीवन को सुखी बनाने के लिए अन्य मनुष्यों का...
जयपुर के आस पास पर्यटन स्थल

जयपुर के आसपास के स्थल- १० सर्वोत्कृष्ट एक-दिवसीय भ्रमण

जब जयपुर में ही इतना कुछ दर्शनीय है तो जयपुर के आसपास के दर्शनीय स्थलों की खोज हम क्यों करें? यही सोच रहे हैं न आप? आपका संशय तर्कसंगत अवश्य प्रतीत होता है। किन्तु...
गोवर्धन पर्वत शिला

गोवर्धन परिक्रमा – वह पर्वत जिसे कृष्ण ने अपनी कनिष्ठिका पे उठाया था

गोवर्धन पर्वत, यमुना एवं ब्रज भूमि – केवल यही तीन मूल धरोहर कृष्ण के समय से अब तक अस्तित्व में हैं। कम से कम उस नाविक की दृष्टि में तो यही सनातन सत्य है...
Madhaveshwar Mandir Complex Darbhanga Bihar

माधवेश्वर मंदिर परिसर दरभंगा – इस ‘श्मशान’ में होता है जीवन का दर्शन

बागमती नदी के किनारे बसे बिहार के पुराने शहरों में से एक दरभंगा आज बिहार का प्रमंडलीय मुख्यालय है। इस शहर का सर्वप्रथम जिक्र 12वीं शताब्दी के आसपास के दस्तावेजों में मिलता है। वैसे...
कोल्हापुर महालक्ष्मी मंदिर

महालक्ष्मी मंदिर – कोल्हापुर या करवीरपुर स्थित शक्ति पीठ

कोल्हापुर एवं महालक्ष्मी मंदिर, यह दो शब्द हम प्रायः एक ही श्वास में कह जाते हैं। किसी तीर्थयात्री की दृष्टी से देखें तो दोनों शब्दों का एक ही तात्पर्य है। कोल्हापुर की यात्रा करते...
कैलाशनाथ मंदिर कांचीपुरम

कैलाशनाथ मंदिर – कांचीपुरम का प्राचीनतम शिव मंदिर

कैलाशनाथ मंदिर, कांचीपुरम का तीसरा विशालतम मंदिर तथा प्राचीनतम शिव मंदिर। इससे पूर्व मैंने कांचीपुरम के दो सबसे बड़े मंदिरों के दर्शन किये थे, कांची कामाक्षी मंदिर एवं एकम्बरेश्वर मंदिर। इन दो मंदिरों में...
firozabad bangles

फिरोजाबाद – रंगबिरंगी कांच की चूड़ियों की सुहाग नगरी

फिरोजाबाद, इस नगरी के नाम का स्मरण सदैव से मेरे कानों में कांच की चूड़ियों की खनक उत्पन्न करता रहा है। सम्पूर्ण भारत में मैं किसी भी मेले अथवा बाजार में रंगबिरंगी चमचमाती कांच...
कोपेश्वर मंदिर खिद्रापुर - स्वर्ग मंडप

कोपेश्वर मंदिर खिद्रापुर – एक अद्भुत वास्तुकला

महाराष्ट्र में कोल्हापुर के निकट, खिद्रापुर का कोपेश्वर मंदिर चालुक्य देवालय वास्तुकला की उत्कृष्ट कृति है। कोपेश्वर मंदिर, तंजावुर के चोला मंदिरों अथवा खजुराहो के चंदेल मंदिरों की भान्ति प्रसिद्ध नहीं हो पाया है।...
कीर्ति स्तम्भ - कांची मठ, कलदी

कलदी – केरल में आदिगुरूआदि शंकराचार्य की जन्म स्थली

कलदी, इस स्थान के विषय में मुझे सर्वप्रथम जानकारी तब प्राप्त हुई थी जब मैं आदि शंकराचार्यजी की जीवनी पढ़ रही थी। मैंने ढूंडने का प्रयत्न किया कि कलदी कहाँ है? गूगल की सहायता...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

152,303FansLike
2,328FollowersFollow
799FollowersFollow
21,069FollowersFollow
8,070SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ