काश्मीर के नागिन सरोवर पर तैरते हाउसबोट

कश्मीर के हाउसबोट- सरोवर में तैरते घर का एक अनुभव

0
श्रीनगर के हाउसबोट अर्थात् सरोवर पर तैरते घर! क्या इनका अनुभव प्राप्त किये बिना कश्मीर अथवा श्रीनगर की यात्रा पूर्ण मानी जा सकती है? कदाचित नहीं! वस्तुतः, कश्मीर यात्रा के लिए आये पर्यटकों का...
कृष्ण भजन

२० उत्कृष्ट कृष्ण भजन – जन्माष्टमी के लिए बॉलीवुड की सदाबहार सौगात

0
कृष्ण भजन अनेक रसों एवं भावनाओं से ओतप्रोत होते हैं। किसी में गोकुल में बाल गोपाल की चंचल क्रीड़ाओं का आनंद है तो किसी में उनकी युवावस्था में ब्रज भूमि की गोपियों संग की...
वसंतोत्सव पर बसंती कमरा, शाहजी मंदिर, वृन्दावन

बसंत पंचमी कैसे मनाई जाती है ब्रज में!

0
ब्रज में बंसंत पंचमी सदा बसंत रहत वृंदावन पुलिन पवित्र सुभग यमुना तट।। जटित क्रीट मकराकृत कुंडल मुखारविंद भँवर मानौं लट। ब्रज में यूं तो ऋतुओं की भरमार है किंतु एक ऋतु ऐसी है जो ब्रज में...
गणपति भजन

गणपति भजन – शास्त्रीय और लोक स्तुतियाँ अनेक भाषाओँ में

0
यह वर्ष का वह समय है जब चारों ओर का वातावरण गणेश चतुर्थी त्यौहार के उल्हास से ओतप्रोत होता है और गणपति भजन गुंजायमान होते हैं। यद्यपि गणेश चतुर्थी का पर्व विश्व के उन...
गोवा का प्राचीन चंद्रेश्वर भूतनाथ मंदिर

चंद्रेश्वर भूतनाथ मंदिर गोवा की पहाड़ी पर एक प्राचीन मंदिर

0
चंद्रेश्वर भूतनाथ मंदिर गोवा के प्राचीनतम मंदिरों में से एक है। इस मंदिर ने गोवा की प्राचीन राजधानी को अपना नाम प्रदान किया था, चंद्रपुर, जिसे अब चांदोर कहा जाता है। यह मंदिर गोवा...
हिमाचल स्पिति घाटी सड़क यात्रा

हिमाचल एवं स्पीति घाटी – १५ दिवसीय रोमांचक सड़क यात्रा

3
भारत के इस हिमालयी राज्य की घाटियों की अद्भुत सुन्दरता को निहारने के लिए हिमाचल एवं स्पीति घाटी की एक लम्बी सड़क यात्रा से बेहतर उपाय अन्य नहीं हो सकता। धरती के सर्वाधिक जोखिम...
खारे पानी के मगर नंदनकानन में

नंदनकानन प्राणी उद्यान -भुवनेश्वर एक प्राकृतिक चिड़ियाघर

2
नंदनकानन जूलॉजिकल पार्क अथवा नंदनकानन प्राणी उद्यान, ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में भ्रमण करने आए पर्यटकों का एक लोकप्रिय गंतव्य! यह उद्यान भुवनेश्वर के लोगों का भी अत्यंत प्रिय भ्रमण स्थल है। स्थानीय भाषा,...
चाँद बावड़ी - आभानेरी - राजस्थान

जल शक्ति – जल संसाधनों के प्रति श्रद्धा को पुनर्जीवित करने का एक प्रयास

3
हमारे पूर्वजों ने सदैव हमसे यही कहा है कि प्यासे को जल पिलाने से तत्काल पुण्य की प्राप्ति होती है। सम्पूर्ण भारत में हम कहीं भी जाएँ, हमें इस परंपरा का जीवंत उदहारण दृष्टिगोचर...
फूल बंगला के लिए फूल

फूल बंगला प्रथा ब्रज के मंदिरों का ग्रीष्मकालीन उत्सव

0
मानवी चेतना के आरंभ से मनुष्य प्रकृति के विभिन्न रूपों की आराधना करता आ रहा है। मनुष्य ने अपनी कल्पना में प्रकृति के अनेक दैवी रूपों को प्रकट किया है। देव सदृश प्रकृति की...
तेलंगाना की चेरियल पट्टचित्र कला

चेरियल चित्रकारी – तेलंगाना के चेरियल गाँव की विशेष सौगात

0
कलमकारी कला कौशल के पश्चात कदाचित चेरियल चित्रकारी ही आंध्र क्षेत्र की सर्वोत्तम कला देन है। आंध्र प्रदेश के तेलंगाना क्षेत्र में, जो अब स्वयं एक राज्य है, चेरियल नामक एक गाँव है। हैदराबाद...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

149,899FansLike
6,729FollowersFollow
935FollowersFollow
28,461FollowersFollow
15,627SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ