firozabad bangles

फिरोजाबाद – रंगबिरंगी कांच की चूड़ियों की सुहाग नगरी

फिरोजाबाद, इस नगरी के नाम का स्मरण सदैव से मेरे कानों में कांच की चूड़ियों की खनक उत्पन्न करता रहा है। सम्पूर्ण भारत में मैं किसी भी मेले अथवा बाजार में रंगबिरंगी चमचमाती कांच...
कोपेश्वर मंदिर खिद्रापुर - स्वर्ग मंडप

कोपेश्वर मंदिर खिद्रापुर – एक अद्भुत वास्तुकला

महाराष्ट्र में कोल्हापुर के निकट, खिद्रापुर का कोपेश्वर मंदिर चालुक्य देवालय वास्तुकला की उत्कृष्ट कृति है। कोपेश्वर मंदिर, तंजावुर के चोला मंदिरों अथवा खजुराहो के चंदेल मंदिरों की भान्ति प्रसिद्ध नहीं हो पाया है।...
कीर्ति स्तम्भ - कांची मठ, कलदी

कलदी – केरल में आदिगुरूआदि शंकराचार्य की जन्म स्थली

कलदी, इस स्थान के विषय में मुझे सर्वप्रथम जानकारी तब प्राप्त हुई थी जब मैं आदि शंकराचार्यजी की जीवनी पढ़ रही थी। मैंने ढूंडने का प्रयत्न किया कि कलदी कहाँ है? गूगल की सहायता...
नाग वासुकी मंदिर - प्रयागराज के प्राचीन मंदिर

त्रिवेणी संगम की नगरी प्रयागराज के प्राचीन मंदिर

प्रयागराज के प्राचीन मंदिरों के विषय में प्रयागराज नगरी से बाहर कदाचित ही कोई जानता हो। हम प्रयागराज को त्रिवेणी संगम से ही अधिक जानते हैं। त्रिवेणी संगम अर्थात् गंगा, यमुना एवं सरस्वती का...
मांडू का कपूर ताल

मांडू की प्राचीन जल प्रबंधन प्रणाली एवं बावड़ियाँ

विंध्य पर्वत श्रंखला के एक पहाड़ी क्षेत्र पर, लगभग २००० फीट की ऊंचाई पर विराजमान मांडू एक प्राचीन दर्शनीय धरोहर है। उत्तर में मालवा पठार तथा दक्षिण में नर्मदा की घाटियों से घिरी इस...
वरदराज पेरूमल मंदिर राज गोपुरम भीतर से

विष्णु कांची का वरदराज पेरूमल मंदिर – कांचीपुरम

जहां एक ओर कांची कामाक्षी मंदिर कांचीपुरम नगरी का केंद्र बिंदु है, वहीं कांचीपुरम के दो और पहलू हैं, शिव कांची तथा विष्णु कांची। अतः हिन्दू धर्म के इन तीनों प्रमुख पंथों के अनुयायियों...
अहमदाबाद का कालूराम स्वामीनारायण मंदिर

अहमदाबाद धरोहर यात्रा – प्राचीन नगर से एक परिचय 

दिल्ली और हैदराबाद की तरह अहमदाबाद में भी एक प्राचीन नगर बसा हुआ है, जो आज भी पुरातन काल के उसी दौर में जी रहा है। ये प्राचीन जगहें आपको वापिस पुराने जमाने में...
गोवा के उत्सव

गोवा के उत्सव – वर्ष भर मनाये जाने वाले उत्सवों की यात्रा निर्देशिका

गोवा उत्सवों का देश है। एक ओर गणेश चतुर्थी, दिवाली तथा क्रिसमस जैसे उत्सव हैं जो भारत के अन्य स्थानों के सामान गोवा में भी मनाये जाते हैं। दूसरी ओर कई ऐसे अनोखे उत्सव...
मत्तूर - कर्णाटक का संस्कृत भाषी गाँव

मत्तूर – कर्नाटक के शिवमोग्गा का संस्कृत भाषी गाँव

जब से मैंने सुना कि मत्तूर गाँव का बच्चा बच्चा संस्कृत में वार्तालाप करता है, मैं इस गाँव को देखने के लिए आतुर थी। मन में उत्सुकता जागृत हो गयी, प्राचीन काल में जो...
पार्वती घाटी के मणिकरण के उष्ण झरने

मणिकरण साहिब और कुल्लू मनाली में स्थित पार्वती घाटी के रहस्य   

हमारे 18 दिनों के लंबे हिमाचल भ्रमण के अंतिम दिन हम मणिकरण साहिब के दर्शन करने चले। घर वापस जाने से पहले हम आभार प्रकट करने के रूप में मणिकरण साहिब के दर्शन लेना...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

152,832FansLike
2,328FollowersFollow
778FollowersFollow
20,666FollowersFollow
7,570SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ