कूच बिहार राजबाड़ी

कूच बिहार – पश्चिम बंगाल की राजसी नगरी के पर्यटक स्थल

0
कूच बिहार – इस नगरी के विषय में मैंने सर्वप्रथम उस समय जाना जब मैं जयपुर की महारानी गायत्री देवी से संबंधित एक लेख पढ़ रही थी। महारानी गायत्री देवी के पिता कूच बिहार...
आगरा का सुप्रसिद्ध पेठा

आगरा पेठा – शहर की पारंपरिक स्वादिष्ट मिठाई

0
आगरा शहर मुख्य रूप से विश्व में स्थित सात अजूबों में से एक ' ताज महल ' के लिए विश्वप्रसिद्ध है। किन्तु इसके अलावा एक और चीज़ जिसके नाम से इस शहर की पहचान...
राम राज्य

राम राज्य क्या है? जानिए गोस्वामी तुलसीदास जी से

0
राम राज्य! यह शब्द हम सबने अनेक बार सुना है। किन्तु राम राज्य का अर्थ क्या है, यह जानने का प्रयत्न कदाचित हम में से किसी ने नहीं किया होगा। मैंने ६ मास व्यतीत कर...
हिडिम्बा देवी मंदिर - मनाली

हिडिंबा देवी मंदिर – मनाली के डूंगरी वन विहार स्तिथ अधिष्टात्री देवी

2
मनाली, भारत के हिमाचल प्रदेश राज्य की पहाड़ियों का एक महत्वपूर्ण पर्वतीय स्थल, अनेक देवी-देवताओं एवं ऋषियों की भूमि रही है। हिडिंबा देवी मनाली की अधिष्ठात्री देवी हैं। मनाली के डूंगरी वन विहार में...
रानी सती मंदिर झुंझुनू

राजस्थान के झुंझुनू शेखावाटी में दर्शनीय स्थल

2
झुंझुनू इतना संगीतमय शब्द है जो कानों में पड़ते ही संगीत घोलने लगता है। आँखें बंद कर झुंझुनू शब्द सुनें तो मानसपटल पर किसी शिशु का मन बहलाने वाला खनकता खिलौना, झुनझुना आ जाता...
भूरे पंख वाली रामचिरैय्या

भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान – खारे जल के मगरमच्छों व रामचिरैयों का बसेरा

4
खारे जल के मगरमच्छों एवं रामचिरैयों की दुर्लभ प्रजातियां! मिलना चाहते हैं इनसे? तो आईए चलें ओडिशा के भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान में! गूगल नक्शे में भितरकनिका ढूंढ कर उसे पास से देखें तो ओडिशा...
दश महाविद्या मंदिर - कनखल हरिद्वार

हरिद्वार के दर्शनीय देवी मंदिर – शक्तिपीठ एवं सिद्धपीठ

2
हरिद्वार का नाम लेते ही आँखों के समक्ष हर की पौड़ी का दृश्य उभर कर आ जाता है। संध्या की आरती की जगमगाहट आँखों को चुँधियाने लगती है। गंगा के तट पर खचाखच भरे...
भीमा देवी मंदिर की पीठिका अवन अमलका

प्राचीन भीमा देवी मंदिर – पिंजौर गार्डन, पंचकुला

3
भीमा देवी मंदिर संकुल पंचकुला जिले के पिंजौर नगरी में, प्रसिद्ध पिंजौर गार्डन क्षेत्र के समीप स्थित है। यदि आपने कभी चंडीगढ़ में निवास किया हो अथवा कभी चंडीगढ़ का भ्रमण किया हो तो...
कोल्हापुर के पंचगंगा घाट

कोल्हापुर – महाराष्ट्र के सांस्कृतिक केंद्र के दर्शनीय स्थल

2
मेरे लिए कोल्हापुर का अर्थ था, कोल्हापुर का प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिर, कोल्हापुरी चप्पल, तीखी लाल मिर्च तथा लावणी नृत्य। इससे पूर्व मैंने कोल्हापुर की यात्रा ‘डेक्कन ओडिसी’ नामक विशेष रेल यात्रा के एक भाग...
बंगाल के आदिवासी जीवन का चित्रण

शांतिनिकेतन – रवींद्रनाथ ठाकुर का स्वप्निल विश्व भारती विद्यालय

2
शांतिनिकेतन - शिक्षा की इस नगरी का नाम सुनते ही नयनों के समक्ष रवींद्र नाथ ठाकुर की छवि प्रकट हो जाती है। बालपन से हमने रवींद्रनाथ ठाकुर एवं उनकी कर्म भूमि शांतिनिकेतन के विषय...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

150,692FansLike
6,729FollowersFollow
907FollowersFollow
23,504FollowersFollow
8,650SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ