बांधवगढ़ का इतिहास और धरोहर

बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान का इतिहास, धरोहर एवं जीवन

बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान उन प्रसिद्ध बाघों के लिए अत्यंत लोकप्रिय है जो अधिकतर पर्यटकों को अपने अद्वितीय दर्शन देकर तृप्त कर देते हैं। यद्यपि राष्ट्रीय उद्यान अथवा वन्यजीव उद्यान का नाम सुनते ही मन...
घुघुआ जीवाश्म उद्यान

घुघुआ जीवाश्म उद्यान में भारत के प्राचीनतम निवासियों से एक भेंट

मेरी प्रत्येक यात्रा मेरे लिए नवीन अनुभव का भण्डार लेकर आती है। इस वर्ष मेरी मध्य प्रदेश यात्रा के समय मुझे बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान एवं कान्हा राष्ट्रीय उद्यान के मध्य एक अनोखा व अद्वितीय...
इंदौर की सुप्रसिद्ध भुट्टे की खीस

इंदौर की गलियों के १७ लोकप्रिय व्यंजन- जिनके बिना इंदौर यात्रा अपूर्ण है

यदि आपको कभी मध्य प्रदेश की चहल-पहल भरी नगरी, इंदौर की यात्रा का सौभाग्य प्राप्त हुआ है, तो मैं निश्चित रूप से कह सकती हूँ कि आप इंदौर की खाऊ गलियों में बिकते स्वादिष्ट...
भीमबेटका के प्राचीन शैलचित्र

भीमबेटका शैलाश्रय एवं प्रागैतिहासिक गुफा चित्र

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से ४५ किलोमीटर दक्षिण की ओर, भोपाल-होशंगाबाद राजमार्ग पर भीमबेटका नामक विश्व धरोहर स्थल है। जब आप भोपाल से होशंगाबाद की ओर जा रहे हों तब आप अपने दाहिनी ओर...
बाघ गुफाएं

बाघ गुफाएं और उनके अद्भुत भित्तिचित्र व ठप्पा छपाई

जब से मैंने दिल्ली के राष्ट्रीय संग्रहालय में भारतीय कला का अध्ययन किया था, तब से मध्य प्रदेश की बाघ गुफाओं के दर्शन करना मेरी यात्रा प्राथमिकता में उच्च स्थान पर था। मुझे अब...
भगोरिया - भील जनजाति का होली उत्सव

मध्य प्रदेश के भील जनजाती का भगोरिया उत्सव

जब मुझे भगोरिया उत्सव में भाग लेने के लिये झाबुआ जाने का निमंत्रण मिला, मुझे इस उत्सव के विषय में तनिक भी जानकारी नहीं थी। ना ही झाबुआ के अस्तित्व के विषय में कोई...
मांडू का कपूर ताल

मांडू की प्राचीन जल प्रबंधन प्रणाली एवं बावड़ियाँ

विंध्य पर्वत श्रंखला के एक पहाड़ी क्षेत्र पर, लगभग २००० फीट की ऊंचाई पर विराजमान मांडू एक प्राचीन दर्शनीय धरोहर है। उत्तर में मालवा पठार तथा दक्षिण में नर्मदा की घाटियों से घिरी इस...
असीरगढ़ दुर्ग - बुरहानपुर

बुरहानपुर – जहां कभी ताज महल बनवाया जाने वाला था!

बुरहानपुर – इस नगर को मैं केवल इसलिए जानती थी कि यहाँ शाहजहाँ की पत्नी मुमताज महल की मृत्यु हुई थी। वही मुमताज महल जिनकी स्मृति में ताज महल बनवाया गया था। अपनी १४वी.संतान...
ओम्कारेश्वर द्वीप

ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग नर्मदा के पावन तट पर

ओंकारेश्वर, नर्मदा नदी में स्थित एक अद्वितीय द्वीप! ४कि.मी. लंबा व २कि.मी. चौड़ा यह द्वीप, चारों ओर नर्मदा नदी से घिरा छोटा पहाड़ दिखाई पड़ता है। आकाश से यदि इसे देखा जाये तो यह...
महेश्वर के पर्यटक स्थल

महेश्वर – नर्मदा के चरणों में अहिल्या बाई होलकर की प्राचीन नगरी

महेश्वर यानि रानी अहिल्या बाई होलकर की नगरी! रानी अहिल्या बाई ने होलकर की राजधानी को इंदौर से नर्मदा किनारे स्थित महेश्वर में स्थानांतरित किया तथा यहीं से उन्होंने शासन किया। भगवान् शिव एवं...

सोशल मीडिया पर जुड़िये

149,899FansLike
6,729FollowersFollow
935FollowersFollow
28,461FollowersFollow
15,627SubscribersSubscribe

लोकप्रिय प्रविष्टियाँ